RAM और ROM में क्या अंतर है जानिए हिंदी में

आपने कभी ना कभी RAM और ROM के बारे में जरूर सुना होगा इनका इस्तेमाल कंप्यूटर, मोबाइल, टेबलेट जैसे अन्य devices में किया जाता है यह सभी कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल फोन में होता है, RAM and ROM किसी भी मोबाइल या कंप्यूटर के लिए बहुत आवश्यक होता है RAM एक प्रकार का स्टोरेज ही होता है जिसमें आप अपने फाइल्स और डाक्यूमेंट्स को स्टोर करके रख सकते हैं। RAM और ROM एक प्रकार का प्राइमरी मेमोरी होता है, इन्हें इंटरनल मेमोरी भी कहा जाता है। 
आप जब कोई नया कंप्यूटर या मोबाइल खरीदने जाते हैं तो आपको मोबाइल में RAM और ROM के बारे में बताया जाता है लेकिन क्या आपको पता है की रैम और रोम क्या है, इसका काम क्या है और RAM और ROM में क्या अंतर है (RAM Aur ROM Me Kya Difference Hai) What is the difference between RAM and ROM यदि नहीं पता तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें इसमें मैंने RAM और ROM में क्या अंतर है हिंदी में बताया है।

RAM क्या है? | What Is RAM In Hindi

जैसा कि मैंने ऊपर बताया RAM एक प्राइमरी मेमोरी है जिसे इंटरनल मेमोरी भी कहा जाता है और RAM सभी मोबाइल और कंप्यूटर में लगाया जाता है, RAM की मदद से ही आपका कंप्यूटर और मोबाइल ऑन होता है और आप उसमें अपनी मर्जी से कुछ भी काम कर सकते हैं, जब आप हाई डेफिनेशन गेम को अपने मोबाइल या कंप्यूटर सिस्टम में खेलते हैं तो यह सब आप रैम की मदद से ही कर पाते हैं, आपने कभी नोटिस किया होगा कि अगर आपके कंप्यूटर या मोबाइल में RAM कम GB का है तो आपका मोबाइल और कंप्यूटर धीरे काम करता है और बीच-बीच में हैंग होने लगता है और उसमें आप हाई डेफिनेशन गेम्स को आसानी से नहीं खेल पाते हैं, इतना ही नहीं अगर आपके कंप्यूटर या मोबाइल फोन में RAM ही ना हो तो आपका कंप्यूटर ऑन ही नहीं होगा, इसलिए कंप्यूटर और मोबाइल को ऑन करने और अपने कंप्यूटर या मोबाइल में बिना हैंगिंग प्रॉब्लम के काम करने के लिए रैम का होना बहुत जरूरी है।
RAM का पूरा नाम random Access memory होता है और यह एक volatile memory होता है। इसकी मदद से आप अपने कंप्यूटर को ऑन कर सकते हैं और उसमें अपने सभी जरूरी काम जैसे एमएस ऑफिस में डॉक्यूमेंट तैयार करना या कोई हाई डेफिनेशन गेम खेलना आदि कर सकते हैं।

ROM क्या है? | What Is ROM In Hindi

ROM भी प्राइमरी मेमोरी होता है इसे इंटरनल मेमोरी भी कह सकते हैं किसी भी कंप्यूटर या मोबाइल फोन में पहले ROM की जरूरत होती है उसके बाद RAM की, ROM का फुल फॉर्म Read only memory होता है और यह एक non volatile memory होता है, किसी भी कंप्यूटर या मोबाइल फोन में रैम को पहले ही लगाया जाता है मतलब जब आपका मोबाइल बन रहा होता है उसी वक्त उसमें राम को फिट किया जाता है उसके बाद आप इसे चेंज नहीं कर सकते हैं केवल रीड कर सकते हैं इसलिए इसे रीड ओनली मेमोरी कहते हैं।

RAM और ROM में क्या अंतर है जानिए हिंदी में
RAM और ROM में क्या अंतर है जानिए हिंदी में 

RAM और ROM में क्या अंतर है जानिए हिंदी में 

1. RAM का पूरा नाम रेंडम एक्सेस मेमोरी (Random Access Memory) है और ROM का पूरा नाम रीड ओनली मेमोरी (Read Only Memory) होता है।

2. ROM आपके कंप्यूटर या मोबाइल में पहले से डला होता है इसलिए आप इसमें कोई Changes नहीं कर सकते हैं और RAM को आप अपनी मर्जी से घटा या बढ़ा कर चेंज कर सकते हैं।

3.  RAM को volatile memory कहा जाता है और ROM को non volatile memory कहा जाता है।

4. RAM में जो भी एक्टिविटी आपने की होती है वह कंप्यूटर या मोबाइल के बंद हो जाने के बाद डिलीट हो जाता है जबकि ROM में मोबाइल बंद होने पर भी इस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता, क्योंकि इसे किसी पावर की जरूरत नहीं पड़ती।

5. RAM के डाटा जैसे सॉफ्टवेयर एप्स आदि को सीपीयू द्वारा एक्सेस किया जा सकता है लेकिन ROM के किसी भी डाटा को सीपीयू एक्सेस नहीं कर सकता। 

इन्हें भी पढ़ें :-


इस पोस्ट पर कमेंट करें

Please do not enter any spam link in the comment box.

नया पेज पुराने